Wednesday, December 31, 2008

वार्षिक संगीतमाला 2008 :पायदान संख्या 25 - पप्पू नाच नहीं सकता..Pappu Can't Dance Sala

२००८ खत्म होने की कगार पर है और साल को विदा करते समय वक़्त आ गया है वार्षिक संगीतमाला २००८ की उलटी गिनती शुरु करने का। संगीतमाला की २५ वीं पायदान यानि २५ वें नंबर पर गाना वो जिसका आरंभिक संगीत बजते ही बच्चे, बूढ़े और जवान एक साथ थिरकने लगते है्। ये गीत इस साल इतनी बार पार्टियों में बजा कि आप शायद सुन कर थोड़े बोर हो गए होंगे।


जी हाँ मैं उसी पप्पू की बात कर रहा हूँ जिसके पास वो सारी खूबियाँ हैं जिन्हें आज की पीढ़ी बेहद महत्त्व देती है पर जिसे कमबख्त नाचना ही नहीं आता। खैर नाचना तो मुझे भी नहीं आता पर अनुपमा देशपांडे, बेनी दयाल, सतीश सुब्रमनियम, तन्वी, दर्शना और असलम के सम्मिलित स्वर में गाए इस गीत ने कई बार मुझे बच्चों के साथ मुझे भी झूमने पर विवश किया है। जाने तू या जाने ना फिल्म के इस गीत को ए.आर रहमानऔरअब्बास टॉयरवाला अपने संगीत और गीत बदौलत साल का सबसे मस्ती भरा गीत बनाने में सफल रहे हैं।

इस गीत में 'साला'शब्द के प्रयोग पर बहस हो सकती है। अब्बास और रहमान साला की जगह 'बाबा' शब्द का प्रयोग कर सकते थे पर शायद गाने को एक मसालेद्वार स्वाद देने के लिए उन्होंने 'साला'शब्द चुना। वैसे छोड़िए इन बातों को, फिलहाल तो पिछले साल को खुशी खुशी अलविदा करना है इसलिए एक बार पप्पू के साथ और थिरक लें तो तैयार हैं ना आप....


और अगर तेज बैंडविड्थ आपके पास हो तो ये रहा यू ट्यूब पर इस फिल्म का वीडिओ



३१ दिसंबर की इस रात को मैं एक शाम मेरे नाम के तमाम पाठकों और अपने साथी चिट्ठाकारों को नए वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएँ देता हूँ। आशा है आप सब नए साल में भी इस चिट्ठे के साथी बने रहेंगे..........
Related Posts with Thumbnails

11 comments:

मीत on December 31, 2008 said...

ख़ुद को update करता हूँ तुम्हारे ब्लॉग पे आ के .... वरना तो मैं १९८५ में रुका पड़ा हूँ ....

Thanks a lot Manish ..... मस्त पोस्ट ... मस्त गाना ... Imagine an oldie like me ....

WISH YOU A VERY HAPPY 2009 ... AND AHEAD...

शुभम आर्य on December 31, 2008 said...

नया साल आए बन के उजाला
खुल जाए आपकी किस्मत का ताला|
चाँद तारे भी आप पर ही रौशनी डाले
हमेशा आप पे रहे मेहरबान उपरवाला ||

नूतन वर्ष मंगलमय हो |

कंचन सिंह चौहान on January 01, 2009 said...

नव वर्ष की शुभकामनाएं.... इस आगाज़ के साथ नया वर्ष ....अच्छा अनुभव! हाँ कल रात में जब नया वर्ष नवजात शिशु के रूप में था तो इस गाने बच्चो के साथ साथ मुझे भी खूब झुमाया....और जो दूसरा गाना था झूमने वाला साला शब्द तो उसमें भी था....! :) :)

नितिन व्यास on January 01, 2009 said...

नव वर्ष की शुभकामनायें

Phoenix Rises on January 02, 2009 said...

I like this song! Lotsa fun! I didn't like it too much when I first heard it, but it grew on me.

जोशिम on January 03, 2009 said...

वैसे नाचना हमें भी नहीं आता - आए न आए - पायदानों का रोमांच खींच कर नचा भी देगा - क्या खूब शुरुआत है मौला [ :-)]

chandan on January 03, 2009 said...

khusion se damkega chehra kabhi to,
kisi pal, ankhon mein nami bhi to hogi,
naye sal mein rang,hazaron milenge,
bite lamhon ki baten,kabhi bhi to hogi.

Manish Kumar on January 04, 2009 said...

Shukriya aap sab ki shubhkamnaon ka !

Joshim aap Bahut din baad dikhe. Kaise hain aap?

PR mujhe to ye pehli baar mein hi jhuma gaya tha.

常州麻将 on January 07, 2009 said...

Read your article, if I just would say: very good, it is somewhat insufficient, but I am

still tempted to say: really good!
Personalized Signature:面对面视频游戏,本地棋牌游戏,本地方言玩游戏,打麻将,玩掼蛋,斗地主,炸金花,玩梭哈

yunus on January 07, 2009 said...

अपना पसंदीदा गीत है भाई ।
अपनी पूरी एप्रोच में बहुत ही टीन एज और बहुत ही नशीला ।
'कभी कभी अदिति' इससे भी अच्‍छा लगता है ।

PrincessJasmine on January 28, 2009 said...

Aapko bhi naye saal mubarak. Thodi der se par bhoole nahin. :)

waah nice song or 25th position. Acha dance number hai...although I like the sad one "jaana oh jaana". :)

 

मेरी पसंदीदा किताबें...

सुवर्णलता
Freedom at Midnight
Aapka Bunti
Madhushala
कसप Kasap
Great Expectations
उर्दू की आख़िरी किताब
Shatranj Ke Khiladi
Bakul Katha
Raag Darbari
English, August: An Indian Story
Five Point Someone: What Not to Do at IIT
Mitro Marjani
Jharokhe
Mailaa Aanchal
Mrs Craddock
Mahabhoj
मुझे चाँद चाहिए Mujhe Chand Chahiye
Lolita
The Pakistani Bride: A Novel


Manish Kumar's favorite books »

स्पष्टीकरण

इस चिट्ठे का उद्देश्य अच्छे संगीत और साहित्य एवम्र उनसे जुड़े कुछ पहलुओं को अपने नज़रिए से विश्लेषित कर संगीत प्रेमी पाठकों तक पहुँचाना और लोकप्रिय बनाना है। इसी हेतु चिट्ठे पर संगीत और चित्रों का प्रयोग हुआ है। अगर इस चिट्ठे पर प्रकाशित चित्र, संगीत या अन्य किसी सामग्री से कॉपीराइट का उल्लंघन होता है तो कृपया सूचित करें। आपकी सूचना पर त्वरित कार्यवाही की जाएगी।

एक शाम मेरे नाम Copyright © 2009 Designed by Bie