Saturday, January 04, 2020

वार्षिक संगीतमाला 2019 Top 25 : चलूँ मैं वहाँ, जहाँ तू चला Jahaan Tu chala

वार्षिक संगीतमाला की अगली पायदान पर गीत ऐसी फिल्म का जिसमें चार पाँच नहीं बल्कि डेढ़ दर्जन गाने थे और इसका एक गीत "अपना टाइम आएगा" तो देश की आशा का प्रतीक ही बन गया। इस फिल्म ने दिखा दिया कि रैपर्स अपने गीतों के माध्यम से समाज में एक आशा, जोश और जागरुकता जरूर पैदा कर सकते हैं। हालांकि रैप गीतों के साथ ये भी है कि वो जितनी जल्दी चढ़ते हैं उतनी जल्दी उतरते भी हैं। अब अठारह गाने सुनते सुनते मेरे दिल की सुई जहाँ रुकी वो गीत था जसलीन रॉयल का जहाँ तू चला। 

एलबम में इस गीत के दो रूप हैं। मैंने वो रूप चुना है जिसे मिडनाइट मिक्स का नाम दिया गया है। जसलीन की छवि एक रॉक स्टार की रही है। उनकी अधिकांश तस्वीरों में गिटार बराबर का साथी रहता है। उनके गाने का अंदाज़ भी इस छवि के अनुरूप ही है। पिछले साल मैंने जब उनकी फिल्म हिचकी के बारे में लिखा था तो आपको बताया था कि किस तरह पंजाब के लुधियाना शहर से ताल्लुक रखने वाली इस युवा कलाकार ने जसलीन कौर से जसलीन रायल तक का सफ़र पूरा किया है।



जसलीन ने अब तक जो काम किया है उसमें श्रेय इस बात का भी है कि उन्होंने अपनी तरफ से उन लोगों से बार बार संपर्क साधा जिनके साथ वो काम करना चाहती थीं। बार बार देखो, डियर ज़िदगी और गली ब्वाय में भी मौका उन्हें अपनी इसी आदत की वज़ह से मिला। बार बार देखो की रिलीज़ के बाद एक कार्यक्रम में जसलीन ने जोया अख्तर से मुलाकात की थी। जोया ने उन्हें अपने दफ्तर में भी बुलाया पर उस वक़्त उनके पास जसलीन के लिए कोई काम नहीं था। फिर महीनों बाद अचानक ही उनके कार्यालय से फोन आया कि गली ब्वॉय के लिए एक गाना करना हैं उन्हें और फिर दो तीन सिटिंग में शुरुआती बोलों में थोड़ा बदलाव करते हुए ये गाना तैयार हुआ।
जसलीन का एक रॉयल लुक :)

जसलीन की एक खूबी ये भी है कि वो अपने गीतों के बोलों पर विशेष ध्यान रखती हैं। पिछले साल हिचकी के गीतों में ये बात स्पष्ट नज़र आई थी और  गली ब्वॉय के इस गीत के बोल भी बेहद प्यारे हैं। जसलीन का ये गीत आज इस संगीतमाला में है तो इस सफलता में बराबर के हक़दार आदित्य शर्मा भी हैं जिन्होंने इस गीत को लिखा है। आदित्य बार बार देखो और शिवाय में भी जसलीन के लिए गाने लिख चुके हैं।

जहाँ तू चला एक ऍसा गीत है जिसमें नायिका नायक के मन में एक आशा का संचार कर रही है, अनजानी राहों पर साथ चलते हुए उसे कुछ नया करने के लिए प्रेरित कर रही है। वो चाहती है कि वो अपने दुखों को मन में ना रखकर उससे साझा करे और दिल से उन्हें बहा दे। आदित्य ने इस गीत में कुछ ऐसी नयी कल्पनाओं को जगह दी है जो प्रभावित करती है। मसलन बिना उद्देश्य सड़कों पे भटकने के लिए कितनी खूबसूरती से वे कहते हैं कि बेइरादा सड़कों पे तारीखों को ढकेलते हैं। इसी तरह दुखों को सेंकने में भी उनका भाव निराला है।

कहता है कुछ और करता है और
लेता है क्यूँ तू दिल पे ज़ोर
बतला, बतला
कोरी सी रात को भर दे आज
तू खोल दे सब राज़ राज़
बह जा, बह जा
गुपचुप सा क्यूँ है तू ये बता
कुछ तो हँसी को दे जगह
बेवजह, बेवजह
खोए खोए बेपरवाह हों
बातों बातों में सुबह हो
लम्हों को लें सजा
नहीं है तू तन्हा
चलूँ मैं वहाँ, जहाँ तू चला
चलूँ मैं वहाँ...

समझा बुझा के देखते हैं
दिन दुःख पहले सेंकते हैं
चल बुने नई कहानियाँ
बेइरादा सड़कों पे
तारीखों को ढकेलते हैं
चल वहाँ जहाँ ना हो गया
चलूँ मैं वहाँ, जहाँ तू चला
चलूँ मैं वहाँ, जहाँ तू चला
चलूँ मैं वहाँ (कैसा भी हो समां)
जहाँ तू चला (रहूँ साथ सदा)
कैसा भी हो समां, रहूँ साथ सदा

मिडनाइट मिक्स में अंतरों के बीच जो संगीत का तड़का है वो आपको झूमने पर विवश करता है तो आइए सुनें जसलीन की आवाज़ में ये गीत...


Related Posts with Thumbnails

2 comments:

Arvind Mishra on January 04, 2020 said...

Jab ye album release hua tha to iska song "apna time aayega"suna to laga it's not my cup of tea. Aage ke gane sunane ki zahmat hi nhi ki par ye gana to koyale ki khan mein heera nikala. Isiliye aapko gaano ka zohari kahta hu main.
Aapko salaam

Manish Kumar on January 05, 2020 said...

धन्यवाद ! जानकर खुशी हुई कि ये गीत आपके मन को भी भाया।

 

मेरी पसंदीदा किताबें...

सुवर्णलता
Freedom at Midnight
Aapka Bunti
Madhushala
कसप Kasap
Great Expectations
उर्दू की आख़िरी किताब
Shatranj Ke Khiladi
Bakul Katha
Raag Darbari
English, August: An Indian Story
Five Point Someone: What Not to Do at IIT
Mitro Marjani
Jharokhe
Mailaa Aanchal
Mrs Craddock
Mahabhoj
मुझे चाँद चाहिए Mujhe Chand Chahiye
Lolita
The Pakistani Bride: A Novel


Manish Kumar's favorite books »

स्पष्टीकरण

इस चिट्ठे का उद्देश्य अच्छे संगीत और साहित्य एवम्र उनसे जुड़े कुछ पहलुओं को अपने नज़रिए से विश्लेषित कर संगीत प्रेमी पाठकों तक पहुँचाना और लोकप्रिय बनाना है। इसी हेतु चिट्ठे पर संगीत और चित्रों का प्रयोग हुआ है। अगर इस चिट्ठे पर प्रकाशित चित्र, संगीत या अन्य किसी सामग्री से कॉपीराइट का उल्लंघन होता है तो कृपया सूचित करें। आपकी सूचना पर त्वरित कार्यवाही की जाएगी।

एक शाम मेरे नाम Copyright © 2009 Designed by Bie